Hazrat Uzair हजरत उजैर


                                  Hazrat Uzair हजरत उजैर   
हजरत ऊजैर बनी इस्राईल के नबी और हजरत हारुन की नस्ल से हैं | अल्लाह तआला ने सूर-ए-तौबा में उन का तजकेरा किया है | वह तौरात के हाफिज और बडे आलिम थे, जब बुख्ते नस्र बादशाह ने बनी इस्राइल को शिकस्त दे कर फलस्तीन और बैतुलमकदिस बिल्कुल तबाह कर दिया और उन को गुलाम बना कर बाबुल ले गया और तौरत के तमाम नुस्खों को जला कर राख कर दिया और वह तौरात जैसी अजीम आसमानी किताब से महरूम हो गए, तो अल्लाह तआला ने हजरत उजैर को दोबारा बैतुलमकदिस आबाद करने का हुक्म दिया, उन्होंने उस की वीरानी को देख कर हैरत का इजहार किया, तो अल्लाह तआला ने सौ साल तक उन पर नींद तारी कर दी |

जब सौ साल सोने के बाद बेदार हो कर देखा के बैतुलमकदिस आबाद हो चुका है, तो हजरत उजैर ने पुरी तौरत सुनाई और उसे आखिर तक लिखाया, इस अजीम करनामे की वजह से यहुदी उन्हें अकीदत में खुदा का बेटा कहने लगे और आज भी फलस्तीन में यहुद का एक फिरका हजरत उजैर को खदा का बेटा कहता है और उन का मुजास्समा बना कर उस की इबादत करता है |

कुर्आन पाक में अल्लाह तआला ने उन के इस गलत अकीदे की इसलहा फर्माई के वह अल्लाह के बन्दे और उस के सच्चे रसूल है, फलस्तीन के दोबारा आबाद होने के बाद पचास साल तक लोगों की इस्लाह करते हुए तकरीबन ४८५ साल कब्ले मसीह इराक के गाँव “साइराबाद” मे इंतेकाल फर्माया |                      
           
                                   Hazrat uzair
Hajarat Uzair banee israeel ke nabee aur hajarat haarun kee nasl se hain | allaah taala ne soor-e-tauba mein un ka tajakera kiya hai | vah tauraat ke haphij aur bade aalim the, jab bukhte nasr baadashaah ne banee israil ko shikast de kar phalasteen aur baitulamakadis bilkul tabah kar diya aur un ko gulam bana kar baabul le gaya aur taurat ke tamam nuskhon ko jala kar raakh kar diya aur vah taurat jaisee ajeem aasamaanee kitaab se maharoom ho gae, to allaah taala ne hajarat uzair ko dobara baitulamakadis aabaad karane ka hukm diya, unhonne us kee veeraanee ko dekh kar hairat ka ijahar kiya, to allaah taala ne sau saal tak un par neend taaree kar dee |

jab sau saal sone ke baad bedar ho kar dekha ke baitulamakadis aabad ho chuka hai, to hajarat uzair ne puree taurat sunaee aur use aakhir tak likhaaya, is ajeem karanaame kee vajah se yahudee unhen akeedat mein khuda ka beta kahane lage aur aaj bhee phalasteen mein yahud ka ek phiraka hajarat uzair ko khuda ka beta kahata hai aur un ka mujasama bana kar us kee ibadat karata hai |

Quran paak mein allaah taala ne un ke is galat akeede kee isalaha pharmaee ke vah allaah ke bande aur us ke sachche rasool hai, phalasteen ke dobara aabad hone ke bad 50 saal tak logon kee islaah karate hue takareeban 485 saal kable maseh iraak ke gav “sairabad” me intekal pharmaya |      

Comments

Popular posts from this blog

जुलकरनैन

हजरत युसूफ की नुबुव्वत व हुकूमत

हजरत याकूब