अल्लाह तआला ने कलम को पैदा किया


      अल्लाह तआला ने कलम को पैदा किया
अल्लाह तआला हमेशा से है और हमेशा रहेगा, हर चीज को अल्लाह तआला ही ने पैदा किया और एक दिन उसी के हुक्म से सारी काइनात खतम हो जाएगी | कुर्आन पाक मे अल्लाह तआला फर्माता है के हर चीज खतम हो जाएगी और सिर्फ आप के इज्जत व बुजुर्गी वाले रब की जात बाकी रहेगी | (सुर-ए-रहमान २६ ता २७) हजरत उबदा बिन सामित बयान करते हैं के रसूलुल्लाह सल. ने फर्माया : “(इस दुनया की तमाम चीजों में) सब से पहले अल्लाह तआला ने कलम को पैदा फर्माया और उसे लिखने का हुक्म दिया, तो उस ने अरज किया : ऐ मेरे रब ! मैं क्या लिखूँ ? अल्लाह तआला ने उसे कयामत तक की पुरी काइनात की तकदीर लिखने का हुक्म दिया |” (अबू दाऊद ४७००) फिर उस ने उस वक्त से कयामत तक होणे वाली तमाम चीजों को लिख दिया | एक दुसरी हदीस मे रसूलुल्लाह सल. ने फर्माया : “अल्लाह तआला ने मख्लूक की तकदीर को जमीन व आसमान की पैदाइश से पचास हजार साल पहले लिखा है |”
(मुस्लीम : ६७४८) उस वक्त से कयामत तक दुनया में जो कूछ होता है या होगा, कलम उन चीजों को बहुक्म खुदावंदी पहले हि लिख चुका है |  

Comments

Popular posts from this blog

जुलकरनैन

हजरत युसूफ की नुबुव्वत व हुकूमत

हजरत याकूब